शरीर और त्वचा के लिए एसेंशियल ऑयल के फायदे | Myrichbeauty.com - Beauty Tips In Hindi

एसेंशियल ऑयल हमें पेड़ पौधों की जड़ और फूल पत्तियों से प्राप्त होता है इन पेड़ों के द्वारा कई प्रकार की थेरेपी और आयुर्वेदिक दवाइयों में प्रयोग किया जाता है यह हमारे दिमाग को आराम देने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है की एसेंशियल ऑयल खुशबू हमारे मस्तिष्क पर असर करती है

शरीर के लिए एसेंशियल ऑयल के लाभ :-

  • एसेंशियल ऑयल त्वचा का रूखापन दूर करने में सहायक होते हैं यह सोरायसिस और एक्जिमा जैसी त्वचा संबंधित बीमारियों को दूर करते हैं
  • मानसिक व्याकुलता को दूर करने के लिए एसेंशियल ऑयल काफी मददगार साबित होते हैं दालचीनी चमेली चंदन और गुलाब का तेल इन सब को दूर करने में कारगर साबित हुआ है अपने कमरे में छिड़काव कर सकते हैं यह मन में सकारात्मक विचार लाता है
  • गर्भावस्था के दौरान चिकित्सक के निर्देशानुसार आप कर सकते हैं यदि गर्भावस्था के दौरान कमर दर्द है या गर्दन में दर्द होने की शिकायत है तो नारियल तेल या सरसों के तेल से आप मसाज कर सकते हैं यदि ब्रेस्ट में सूजन आ गई है तो बादाम के तेल में गुलाब और संतरे का तेल मिलाकर उसे मसाज कर सकते हैं आराम दिलाएगा यदि आपके घुटनों में दर्द है तो गुलाब  के तेल को नारियल तेल में मिलाकर लगा सकते हैं
  • हमारे शरीर में इम्युनिटी बढ़ाने का काम करते हैं रोज मेरी मौसमी अजवाइन के एसेंशियल ऑयल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं इस तेल को आप अपने हाथों पर और अंदर आपकी त्वचा पर लगा सकते हैं गर्दन के नीचे लगाने से भी इससे फायदा होता है

असेंशियल ऑयल के खास गुण :-

  • लैवेंडर ऑयल – मन खुश होता है | ठंडक देता है | घावों और त्वचा संबंधी परेशानियों में भी फायदा मिलता है |
  • पेपरमिंट – याददाश्त और मानसिक सतर्कता बढ़ाने में असरकारी है | पाचन प्रक्रिया में भी सुधार होता है | सिर दर्द और मांसपेशियों का खिंचाव दूर होता है |
  • लैमन ऑयल – उदासी और निराशा दूर होती है | मूड तरोताजा होता है | ठंडक मिलती है | लैमन असेंशियल ऑयल को एकाग्रता बढ़ाने में खास असरकारी पाया गया है |
  • रोजमैरी यानी दौनी का तेल एक प्रकार का ऊर्जावर्धक तेल है। इसके प्रयोग से मस्तिष्क की एकाग्रता बढ़ती है और ध्यान में सुधार होता है। यह दिमागी ताकत के बढ़ाकर शरीर को ऊर्जावान बनाता है। इसमें आयरन, कैल्शियम और विटामिन बी-6 पाया जाता है।
  • कैमोमाइल – यानी बबूने का तेल | तनाव और चिंता में कमी होती है | अनिद्रा और व्याकुलता में राहत मिलती है | मांसपेशियों का दर्द भी कम होता है |
  • युकलिप्ट्स – श्वसन प्रणाली में सुधार होता है | इम्यून सिस्टम दुरुस्त होता है |
  • टी ट्री ऑयल – यह त्वचा के लिए खास उपयोगी है | इसमें एंटीफंगल गुण अधिक होते हैं | मुहांसे के उपचार में भी इन्हें इस्तेमाल किया जाता है 
  • यह तेल सर्दी और खांसी के विरूद्ध दवाओं के लिए प्रयोग किये जाने वाले अच्‍छे विकल्‍पों में से एक है। कोल्‍ड और खांसी की समस्‍या होने पर इसकी एक छोटी सी बूंद फायदा करती है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट, विषाणुरोधी एवं रोगाणुरोधी गुण पाये जाते हैं।
  • करी पत्ते का तेल: इस तेल की एक बूंद को छाछ या जूस में मिलाकर पीने से गैस और खट्टी डकारों से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं. इस तेल के प्रयोग से बालों का गिरना कम हो जाता है. इसके अलावा बालों के असमय सफेद होने की समस्या भी दूर होती है.
  • हल्दी का तेल से जोड़ों के दर्द और अर्थराइटिस की समस्या में फायदा होता है. हल्दी के तेल का इस्तेमाल स्किन अल्सर को दूर करने में भी किया जाता है.
  • लोबान का तेल में गैस की समस्या को दूर करने के गुण मौजूद होते हैं. यह शरीर में गैस बनने की प्रक्रिया को रोकने में मदद करता है और साथ ही पसीने की समस्या, बेचैनी और अपच जैसी समस्याओं में राहत देने का काम करता है.
  • सौंफ का तेल से अपच की शिकायत दूर हो जाती है. साथ ही ये पेट और सीने के दर्द से भी राहत दिलाने में मददगार है. चिड़चिड़ेपन की समस्या को दूर करने में भी ये फायदेमंद है. अगर आपके पीरियड्स अनियमित हैं तो भी सौंफ के तेल का इस्तेमाल फायदेंमंद रहेगा.
  • वनिला का तेल में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाये जाते हैं। इसका प्रयोग कैंसर के उपचार में और चिंता तथा अनिद्रा जैसी मानसिक समस्याओं से राहत पहुंचाने में भी किया जाता है। इसका जायका दुनिया के सबसे पसंदीदा जायकों में से एक है।
  • गुलाब के तेल की खुशबू तन और मन को रोमांचित करने वाली होती है। इसके अलावा इसका तेल कई बीमारियों के खिलाफ शरीर की रक्षा करने में मदद कर सकता है। चिंता, तनाव और डर को दूर करने में गुलाब का तेल मदद करता है, क्योंकि इसका उपयोग शरीर और दिमाग को आराम पहुंचाता है।
  • लौंग का तेल नैचुरल गुणों से भरपूर है। यह एक एनाल्जेसिक एवं एन्टीसेप्टिक तेल है जो मुख्य तौर पर दांत की समस्‍याओं को दूर करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह दांत दर्द जैसी समस्‍याओं को आसानी से दूर करता है। इसमें आयरन, विटामिन ए और सी पाया जाता है। यह शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है।
Show Buttons
Hide Buttons