ये कछुआ फ़कीर को भी कर देगा मालामाल, घर मे रख दे जगह | MyRichBeauty.com - Makeup And Beauty Care Blog, Skincare, Hair care And Health Care, weight loss And Cosmetic Hub

आजकल हमें कछुए को घर में रखने  वाले बहुत सारे पोस्ट मिल रहे हैं लेकिन हमें उन्हें यह नहीं पता चल पाता कि हमें कछुआ कौन से धातु का रखना है और हमें किस दिशा में रखना है किस धातु का कछुआ हमें किस लिए फायदा देगा

सर्राफा बाजार में भी कछुए का बनाने का ट्रेंड बहुत जल्दी चल रहा है कोई कछुए की अंगूठी पहन रहा है तो कोई कछुआ ही बनाकर अपने घर में ले जा रहा है लेकिन किसी से पूछने पर भी हमें सटीक जानकारी नहीं मिल पाती है कई बार हम मार्केट से खरीद कर ऐसे ही घर में कछुआ रख देते हैं जिससे हमें कोई लाभ नहीं मिल पाता और हमें लगता है कि शायद यह सब गलत धारणा है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है  कछुए  को घर में रखना बहुत ही शुभ और अच्छा होता है

अलग-अलग धातु का कछुआ अलग-अलग प्रकार के लाभ देता है हिंदू धर्म में कछुए को एक बहुत ही शुभ माना जाता है तो आज की इस पोस्ट में हम देखते हैं कि कछुआ घर में रखने  से हमें धन प्राप्ति होती है लेकिन जब हम कछुआ रखते हैं तो हमें ऐसा कुछ भी नहीं लगता

आज की पोस्ट में हम देखेंगे कि किस धातु का कछुआ हमारे किस परेशानी को दूर करेगा यानी एक कछुआ हमारी सभी परेशानी को दूर कर सकता है

वास्तु शास्त्र और फेंगशुई दोनों में ही कछुए को बहुत शुभ माना जाता है। कछुए में नेगेटिव एनर्जी को खत्म करके पॉजिटीव एनर्जी बढ़ाने की अद्भुत ताकत मानी जाती है। कछुआ घर में होने से मन के लिए शांति और जीवन के लिए धन ले कर आता है। कछुए के घर में होने से कई प्रकार के लाभ होते हैं।

फेंगशुई के अनुसार घर में कछुआ रखने से घर के सदस्यों की उम्र लंबी होती है और सौभाग्य में भी वृद्धि होती है, इसलिए घर या ऑफिस में इसका होना लाभदायक माना जाता है। फेंगशुई के अनुसार कछुआ या कछुए की प्रतिमा रखने के लिए उत्तर दिशा शुभ मानी जाती है।

आज-कल कई अलग-अलग धातुओं, आकार और रंग के कछुए आने लगे हैं। ऐसे में इस बात को समझना और उसका पालन करना बहुत जरुरी है कि कौन-सी इच्छा को पूरा करने के लिए किस धातु का बना कछुआ घर, दूकान या ऑफिस में रखना चाहिए। वास्तु शास्त्र और फेंगशुई के अनुसार अलग-अलग धातु से बने कछुए, विभिन्न परिणाम देते हैं।

एक ख़ास प्रकार का कछुआ जिसकी पीठ पर बच्चे कछुए भी हों, उसे संतान प्राप्ति के लिए ख़ास माना जाता है। जिस घर में संतान ना हो या जो दंपत्ति संतान सुख से वंचित हों, उन्हें इस प्रकार का कछुआ अपने घर में रखना चाहिए।

धन प्राप्ति के लिए

इसके अलावा कछुआ धन प्राप्ति का भी सूचक माना गया है। यदि किसी को धन संबंधी परेशानी हो, तो उसे क्रिस्टल वाला कछुआ लाना चाहिए। इसे वह अपने कार्यस्थल या तिजोरी में भी रख सकते हैं।

बिजनेस में तरक्की के लिए

बिजनेस या ऑफिस में लगातार हो रहे नुकसान को रोक, तरक्की के अवसर पाने के लिए मेटल का कछुआ रखना चाहिए। इसे दूकान-ऑफिस के अलावा अपने बेडरूम में भी रखा जा सकता है।

बीमारियों से बचने के लिए

अगर घर में आए दिन किसी न किसी तरह की बीमारियां होती रहती है तो इससे बचने के लिए घर में मिटटी का बना कछुआ रखना सबसे अच्छा माना जाता है।

नया व्यापार शुरू करने पर

यदि आपने नया व्यापार शुरू किया है या करना चाहते हैं तो नई दूकान में चांदी का बना कछुआ रखना बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा करने से व्यापार को किसी की बुरी नज़र नहीं लगाती।

परीक्षा में सफलता के लिए

आजकल बच्चों के साथ-साथ बड़े भी अपनी नौकरी में प्रमोशन पाने के लिए आए दिन परीक्षा की तैयारी करते रहते हैं, ऐसे में पीतल का बना कछुआ आपको सफलता पाने में मदद करेगा।

क्लेश खत्म करने के लिए

यदि घर के सदस्यों में आए दिन लड़ाई-झगडे होते रहते हैं तो घर में 2 कछुओं का जोड़ा रखना चाहिए। ऐसा करने से घर के सदस्यों के बीच चल रही अनबन ख़त्म हो जाएगी और प्यार बढेगा।

मछली और कछुआ दोनों को ही हिन्दू धर्म में शुभ का प्रतीक माना जाता है। गंदगी में रहने के बावजूद वाराह को भी यात्रा के समय देखना शुभ माना जाता है क्योंकि भगवान विष्णु ने सृष्टि की रक्षा के लिए मछली, कछुआ और वाराह रूप में अवतार लिया था। चीन के वास्तु विज्ञान फेंगशुई में भी मछली एवं कछुआ को शुभ का प्रतीक माना गया है। माना जाता है कि इन्हें घर में रखने से आर्थिक उन्नति होती है और घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता रहता है जिससे घर में रहने वाले लोगों की सेहत अच्छी रहती है। इस मान्यता के कारण बहुत से लोग अक्वेरियम एवं धातु के बने फेंगशुई कछुआ घर में रखते हैं। लेकिन इसके बावजूद उन्हें इसका लाभ नहीं मिलता है। इसका कारण फेंगशुई में यह बताया गया है कि इन चीजों को रखने का स्थान काफी महत्वपूर्ण होता है। अगर इनके लिए निर्धारित दिशा में इन्हें नहीं रखा जाए तो इसका लाभ नहीं मिलता है।

कछुआ के लिए सबसे उत्तम दिशा उत्तर है। उत्तर दिशा को धन की दिशा माना जाता है। उत्तर के अलावा पूर्व दिशा की ओर भी कछुआ रख सकते हैं। लेकिन यह ध्यान रखना चाहिए कि कछुआ का मुंह घर के अंदर की ओर रहे। बाहर की ओर कछुआ का मुंह होने पर धन जिस तेजी से आता है उसी तेजी से खर्च भी हो जाता है। कछुआ को सूखे स्थान पर रखने की बजाय किसी बर्तन में पानी भर कर रखना चाहिए।

 

Show Buttons
Hide Buttons