अश्वगंधा से मात्र एक हफ्ते में 2 इंच लंबाई बढ़ाने का रामबाण नुस्खा | Myrichbeauty.com - Beauty Tips In Hindi

दुनिया में ऐसे कितने ही लोग हैं जो अपने दुनिया में ऐसे कितने ही लोग हैं जो अपनी कम हाइट होने की वजह से शर्मिंदगी का सामना करते हैं लोगों के सामने वह खुद को उपेक्षित महसूस करते हैं और इस वजह से उनके आत्मविश्वास में कमी आ जाती है आज के दौर में छोटी हाइट वाले लोगों को हीन भावना से देखा जाता है हाइट बढ़ाने के लिए तरह-तरह के दवाइयों का सेवन करते हैं जो शरीर पर दुष्प्रभाव छोड़ देते हैं घरेलू चीज के द्वारा अपनी हाइट बढ़ा सकते हैं

लंबाई कम होने के कारण :-

  • शरीर में ठीक प्रकार से पूछना पहुंच पाने की वजह से लंबाई कम हो जाते
  • हार्मोनल इंबैलेंस की वजह से भी लंबाई नहीं बढ़ती है
  • लड़कियों में पीरियड साथ शुरू होने के बाद लंबाई बढ़ना रुक जाती है
  • खेलकूद की कमी से लंबाई रुक जाती है

नुस्खा :-

  • अश्वगंधा का पाउडर
  • स्वादानुसार चीनी
  • एक गिलास गर्म गाय का दूध

विधि :-

गर्म दूध में अश्वगंधा पाउडर और चीनी अच्छी तरह से मिलाएं सोने से पहले इसका सेवन करें 45 दिनों तक रोजाना यह उपाय करने से आपकी लंबाई में अंतर नजर आने लगेगा

अश्वगंधा लंबाई बढ़ाने में सहायक होती है इसमें मिनरल्स होते हैं जो लंबाई बढ़ाते हैं

लंबाई बढ़ाने के अन्य उपाय :-

  • शरीर को खींचने वाले व्यायाम करने से प्राकृतिक रूप से लंबाई बढ़ने लगती है। शरीर को खींचने के लिए घुटनों को मोड़े बिना पैर के अंगूठों को छूने का प्रयास करें। पंजों पर चलें और इसी तरह के अन्य व्यायाम करें।
  • लंबाई बढ़ाने के लिए योगा भी बेहद असरकारी होता है। योगा करने से तनाव भी कम होता है जो कि शरीर की लंबाई बढ़ाने में सहायक है।
  • शरीर के अच्छे विकास के लिए भरपूर नींद भी बेहद जरूरी है। अच्छी नींद सोने से ह्यूमन ग्रोथ हार्मोन (Human growth hormone) अच्छी मात्रा में निकलता है जिससे व्यक्ति की लंबाई बढ़ने लगती है।
  • पोषक तत्वों से युक्त खान-पान भी व्यक्ति की लंबाई बढ़ाने में सहायक होता है। शरीर को भरपूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन और मिनरल मिलते हैं जिससे व्यक्ति की लंबाई बढ़ती है।
  • बेहतर शारीरिक विकास के लिए सही पोश्चर बनाना भी बेहद जरूरी है। सीधे और तनकर बैठना, चलना और कंधों को तानकर रखने से भी लंबाई पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
  • कैल्शियम- कैल्शियम शरीर के लिए एक आवश्यक खनिज है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम हमें दूध, चीज़, दही आदि में मिलता है। ऊंचा लंबा कद पाने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है।
  • मिनरल- खनिज हड्डी के ऊतकों का निर्माण करता है। ये हड्डी के विकास और शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं। अगर आपको अपनी लंबाई बढ़ानी है तो खनिज से भरपूर तत्वों का इस्तेमाल करें। यह पालक, हरी बीन्स, फलियां, ब्रोकोली, गोभी, कद्दू, गाजर, दाल, मूंगफली, केले, अंगूर और आड़ू में पाया जाता है।
  • विटामिन डी- लंबाई बढ़ाने के लिए जिस विटामिन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है उनमें से एक है व‍िटामिन डी। अच्छी तरह से कैल्शियम को हड्डी में अवशोषित करने के लिए, हड्डी के विकास के लिए और प्रतिरक्षा प्रणाली के बेहतर कार्य करने के लिए आपको विटामिन डी की जरूरत होती है जो मछली, दाल, अंडा, टोफू, सोया मिल्कर, सोया बीन, मशरूम और बादाम आदि में पाया जाता है।
  • प्रोटीन- प्रोटीन रिच फूड न केवल हेल्थी होते हैं बल्कि आपकी हाईट भी बढ़ाते हैं। यह शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं। अमीनो एसिड से भरपूर पदार्थ शरीर को सही ग्रोथ और बेहतर कार्य करने की क्षमता प्रदान करते हैं। कुछ आहार जिनमें प्रोटीन पाए जाते हैं वह हैं- मछली, दूध, चीज़, बींस, मीट, मूगंफली, दालें और चिकन आदि।
  • विटामिन ए- शरीर के अंगों के सही प्रकार से कार्य करें इसके लिए आपको विटामिन ए से भरा हुआ आहार अपने रोजाना आहार में शामिल करना चाहिए। इससे हड्डियां मजबूत रहेंगी और साथ ही लम्बाई भी बढ़ेगी। तो विटामिन ए का सेवन जरूर करें। पालक, चुकदंर, गाजर, चिकन, दूध, टमाटर आदि के अलावा सब्जियों के जूस का भी सेवन करें।
  • इसके अलावा कुछ छोटी-छोटी मगर मोटी बातें है जिनको अपनाकर भी आप अपनी हाईट बढ़ा सकते है, जैसे- सही तरीके से बैठें और चलें। कभी भी झुककर बैठना और चलना नहीं चाहिए। चलते और बैठते समय अपनी कमर को सीधा रखें। समय पर सोएं। देर रात तक जागना नहीं चाहिए। रात 10 बजे तक सो जाएं और सुबह उठकर थोड़ा-सा व्यायाम करें, अच्छा रहेगा।
  • आजकल बाजार में ऐसी बहुत सी दवाइयां उपलब्ध है जो आपके कद को 3-4 महीने में  लंबा होने का दावा करती है लेकिन इन दवाइयों के फायदे से ज्यादा नुकसान होते हैं बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी दवाई को कभी नहीं लेना चाहिए यदि प्राकृतिक चीजों से कभी नहीं बढ़ रहा है तो आयुर्वेदिक उपायों को अपनाना चाहिए जिनके इस्तेमाल से शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है
Show Buttons
Hide Buttons