बढ़े हुए यूरिक एसिड को घरेलू नुस्खे द्वारा कम करने का रामबाण इलाज | Myrichbeauty.com - Beauty Tips In Hindi

आजकल शरीर में जोड़ों में दर्द होना एक आम समस्या हो गई है हम इस को नजरअंदाज कर देते हैं और यह समस्या बढ़ती जाती है शरीर में जोड़ों में दर्द होने का कारण  शरीर में बढ़ रहे यूरिक एसिड की मात्रा जब हमारे शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो उसे शरीर में सब जगह दर्द होना शुरू हो जाता है और आर्थराइटिस जैसी बीमारी हो जाती है इनका दवा द्वारा उपचार हो तो जाता है पर इन दवाइयों का साइड इफेक्ट भी होता है इन साइड इफेक्ट से बचने के लिए हम घरेलू चीजों के द्वारा शरीर में बढ़ रही यूरिक एसिड को कम कर सकते हैं शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड की समस्या को हाइपरयूरिकेमिया  कहते हैं

यूरिक एसिड बनने का कारण :-

  • यूरिन के टूटने से यूरिक एसिड बनता है जो किडनी के द्वारा हमारे शरीर में खून तक पहुंचता है और मूत्र मार्ग से बाहर निकल जाता है पर किसी वजह से इसके ना निकल पाने पर यह हमारे शरीर में काफी मात्रा में इकट्ठा हो जाता है और छोटे-छोटे क्रिस्टल के रूप में बन जाता है और जब यह रोग यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो शरीर में अनेक प्रकार की समस्याएं शुरू हो जाती है

यूरिक एसिड के बड़े होने के लक्षण :-

  • हाथ पैरों की उंगलियों में सूजन होना
  • जोड़ों में दर्द होना
  • घुटनों में दर्द होना
  • एक स्थान पर देर तक बैठे रहने से पैरों की एड़ियों में दर्द होना सिर दर्द ठीक हो जाना यही बढ़े हुए यूरिक एसिड का लक्षण है

नुस्खा :-

  • आधा नींबू
  • 50 ग्राम हरी अजमोद की डंडियां
  • 50 ग्राम अदरक
  • एक  खीरा

विधि :-

 नींबू को छोड़कर सभी चीजों को बारीक काट लें और फिर उसके ऊपर नींबू को नहीं छोड़े इसका स्वाद बढ़ाने के लिए एक चुटकी काला नमक मिलाएं नाश्ते के साथ और सोने से पूर्व इसका सेवन करें यह शरीर में से यूरिक एसिड को जल्द घटाने में मदद करती है

यूरिक एसिड को कम करने के अन्य उपाय :-

  • एक चम्मच शहद में एक चम्मच अश्वगंधा पाउडर मिलाएं और इसे हल्के गर्म दूध के साथ भी है यह यूरिक एसिड को कम करता है गर्मी के मौसम में अश्वगंधा की मात्रा आधी कर दें कर दे
  • तेजी से यूरिक एसिड घटाने के लिए रोज सुबह शाम 45-45 मिनट तेज पैदल चलकर पसीना बहायें। तेज पैदल चलने से एसिड क्रिस्टल जोड़ों गांठों पर जमने से रोकता है। साथ में रक्त संचार को तीब्र कर रक्त संचार सुचारू करने में सक्षम है। पैदल चलना से शरीर में होने वाले सैकड़ों से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। तेज पैदल चलना एसिड एसिड को शीध्र नियत्रंण करने में सक्षम पाया गया है।
  • जैतून के तेल में बना आहार, शरीर के लिए लाभदायक होता है। इसमें विटामिन ई की भरपूर मात्रा में मौजूदगी खाने को पोषक तत्‍वों से भरपूर बनाता है और यूरिक एसिड को कम करता है।
  • मोटे लोग प्‍यूरिन युक्त आहार बहुत अधिक मात्रा में लेते हैं। और प्‍यूरिन से भरपूर खाद्य पदार्थ यूरिक एसिड के स्‍तर को बढ़ा देते है। लेकिन, साथ ही यह तेजी से वजन कम होने का एक कारक भी है। इसलिए आपको सभी मामलों में क्रैश डाइटिंग से बचना चाहिए। अगर आप मोटापे से ग्रस्त हैं, तो यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ने से रोकने के लिए अपने वजन को नियंत्रित करें।
  • सुबह खाली पेट दो से तीन अखरोट खाने से शरीर में यूरिक एसिड कम हो जाता है
  • खाना खाने के बाद एक चम्मच अलसी के बीज खाएं यह बढ़ा हुआ यूरिक एसिड कम कर देते हैं
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा को एक गिलास पानी में मिलाकर पिएं यह यूरिक एसिड को कम करने में मदद करता है
  • एलोवेरा जूस में आंवले का रस मिलाकर पिए यह यूरिक एसिड को कम करने में मदद करता है
  • यूरिक एसिड बढ़ जाने की वजह से अगर गठिया हो गया है तो बथुए के पत्तों का जूस निकालकर सुबह खाली पेट पिएं और इसके 2 घंटे बाद तक कुछ ना खाएं
  • नारियल पानी के सेवन से भी हाई यूरिक एसिड को घटाने में मदद मिलती ह
  • अजवाइन इस प्रकार से यूरिक एसिड की आयुर्वेदिक दवा है इसके सेवन से शरीर में यूरिक एसिड कंट्रोल में आता है भोजन पकाते वक्त अजवाइन का इस्तेमाल अवश्य करें
  • चुकंदर सेब और गाजर का जूस रोजाना पीना चाहिए इससे यूरिक एसिड कम होता है और शरीर में पीएच का स्तर बढ़ता है
  • एक गिलास पानी में सेब का सिरका दो से तीन चम्मच मिलाकर दिन में दो से तीन बार पिएं यह यूरिक एसिड को कम करता है ै
  • हाई यूरिक एसिड होने पर ज्‍यादा से ज्‍यादा लिक्विड लें। इससे शरीर के विषाक्‍त पदार्थ पेशाब के रास्‍ते बाहर निकल जाते है और शरीर की अन्‍य गंदगी भी साफ हो जाती है। एक दिन में कम से कम तीन लीटर पानी पिएं।
  • हाई-फाइबर फूड को खाने से शरीर में बढ़ा हुआ यूरिक एसिड घट जाता है और संतुलित हो जाता है। इसे खाने से यूरिक एसिड की मात्रा अवशोषित हो जाती है और बाकी के विषाक्‍त पदार्थ यूरिन के रास्‍ते बाहर निकल जाते है। तरबूज और दलिया जैसे पदार्थ भी इसमें सहायक होते है।
  • हाई यूरिक एसिड की शिकायत होने पर चेरी का सेवन फायदेमंद होता है। इसके सेवन से ब्‍लॉकेज खुल जाते है और यूरिक एसिड भी कम हो जाता है।
  • ब्रोकली में फाइबर भरपूर मात्रा में होते है। इसमें विटामिन सी भी काफी अच्‍छी मात्रा में पाया जाता है। इसे फूड चार्ट में अवश्‍य शामिल करें। इसके सेवन से शरीर यूरिक एसिड की मात्रा कम हो जाती है।
  • अगर शरीर में यूरिक एसिड हाई हो, तो कभी भी बेकरी प्रोडक्‍ट नहीं खाने चाहिये। इनमें सेच्‍युरेटेड फैट होता है जिससे शरीर में हाई यूरिक एसिड हो जाता है, क्‍योंकि इनमें प्रीर्जवेटिव मिला होता है। केक, पैनकेक, पेस्‍ट्री आदि खाने से बचें।
  • हाई यूरिक एसिड की शिकायत होने पर मछली और मीट को न खाएं। कुछ विशेष प्रकार की मछली जैसे- सारडिनेस और मैकीरिल को कतई न खाएं।
  • शरीर में एल्‍कोहल पहुंचने पर हाई यूरिक एसिड हो जाता है। अगर लगातार एल्‍कोहल का सेवन किया जाएं, तो शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है और कई बार गाउट अटैक आ जाता है।
  • यूरिक एसिड बढ़ने की शिकायत होने पर डिब्‍बा बंद फूड का सेवन न करें। इससे बॉडी में यूरिक एसिड को बूस्‍टअप करने वाले तत्‍व नहीं मिलेगें और वह कंट्रोल में रहेगी।
Show Buttons
Hide Buttons